Thursday, April 12, 2018

खूबसूरत मेघालय

कुछ समय पहले ही मैं अपनी मेघालय की यात्रा से वापस लौटी हूं। कुछ दिन मेघालय में बिताने के बाद बहुत कुछ जानने समझने को मिला। अभी के लिये वहां की कुछ तस्वीरें...

भारत के उत्तर पूर्व में स्थित बेहद खूबसूरत राज्य है मेघालय जिसका अर्थ है मेघों का घर मेघालय की स्थापना 21 जनवरी 1972 में हुई थी। मेघालय की राजधानी शिलांग है जो कि एक बड़़ा शहर है। मेघालय में बहुत सी जगह दर्शनीय है जिनमें प्रमुख है चेरापूंजी, दाउकी, मेविलांग हैं। जहाँ एक ओर चेरापूंजी की मावासामी गुफा कुदरत का अनूठा नजारा पेश करती हैं तो वहीं नोखलाई झरना इस खूबसूरती को और ज्यादा बढ़ाता है। लिविंग रूट ब्रिज जिसे यहाँ के स्थानीय निवासियों ने बारिश के दिनों में अपने इस्तेमाल के लिये बनाया पर आज ये पर्यटन का मुख्य आधार बन गया है। दाउकी पश्चिम जयंतिया हिल्स में स्थित जिला है जो उमगट नदी के लिये प्रसिद्ध है। इस नदी का पानी बिल्कुल पारदर्शी है। इसमें नाव से सैर करना एक यादगार अनुभव है। इस नदी के किनारे यहाँ की जनजीवन भी दिखाई देता है। मेघालय में मूल रूप से खासी, जयंतिया और गारो जनजाति के लोग रहते हैं। मेघालय सुपारी और बंास के उत्पादन के लिए प्रसिद्ध है। ग्रामीण क्षेत्रों में आज भी ज्यादातर घर बांस के बने होते हैं जिन्हें जमीन से थोड़ा ऊपर उठा कर बनाया जाता है। मेघालय में ईसाई धर्म का प्रभाव बहुत ज्यादा है इसलिये कई चर्च यहाँ दिखाई देते हैं। मेघालय महिला सशक्तीकरण की मिसाल है।

















4 comments:

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...
This comment has been removed by the author.
रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल शनिवार (14-04-2017) को "डा. भीमराव अम्बेडकर जयन्ती" (चर्चा अंक-2940) पर भी होगी।
--
सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
--
चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट अक्सर नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

महेंद्र मिश्र said...

Sundar Prastuti ...

Onkar said...

सुन्दर चित्र और विवरण