Friday, October 3, 2008

ईद २००८

नैनीताल में मल्लीताल मस्जीद के सामने कुछ इस तरह मनाई गयी ईद







11 comments:

neeshoo said...

विनीता जी अच्छी तस्वीर लगी। आखिरी तस्वीर बहुत ही अच्छी है । बधाई जी आप को ईद की दर से मुबारकबाद

vipinkizindagi said...

achchi photos

मुनीश ( munish ) said...

Lovely pics hain ji saari . thnx for d treat.

dr. ashok priyaranjan said...

vineetaji,
achchi jankari di.

http://www.ashokvichar.blogspot.com

Arun said...

Vineeta Achhi photo lagayi hai tumne.........

Yusuf Kirmani said...

What you said through pictures, people say through words. Please keep it up.

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन said...

बहुत सुंदर, धन्यवाद!

"VISHAL" said...

achchhi tasveere hai, bina kuch kahe hi kaise bola jata hai, in tasveero ne bata diya.

Vishal

BrijmohanShrivastava said...

तस्बीरें सुंदर /बहुत महनत की गई /आम तौर से अनुपलब्ध तस्बीरों के लिए धन्यवाद

DHAROHAR said...

Achi lagi aapke post ki tasveerein. Dhanyawad aur swagat.

BrijmohanShrivastava said...

तीन अक्टूबर से १० तक कुछ नहीं ?किसी चित्र को देख कर आपके दिल में क्या विचार उत्पन्न होते है उन्हें एक्सप्रेस कीजिये =ये चित्र अपने नहीं है लेकिन इन पर जो लिखा जायेगा वह अपना होगा =विचारों के प्रकटीकरन में शब्दों का चयन मार्ग में बाधक हो जाया करता है =विचार तो बहुत उठते है मगर शब्दों के आभाव में व्यक्त कैसे करें /मगर धीरे धीरे समस्या सुलझने लगती है / किसी चित्र को देख कर हम किसी विचार में खो जाए और फिर उसे व्यक्त करें =उसकी बात अलग है /मेरा तो अनुरोध है कि चित्रों की प्रस्तुती के साथ यदि आपका स्वम का लेखन जुड़े तो बात ही अलग हो जायेगी /चित्र कभी हमारे नहीं होंगे लेकिन हमारे द्वारा लिखा गया सदा हमारा रहेगा